शोध से सामने आई बात, साथी की शर्ट को सूंघने से घटता है तनाव

अगर आप शारीरिक और मानसिक रूप से पूरी तरह पस्त हैं तो फिर अपने साथी की शर्ट को सूंघें। इससे आपका तनाव कम होगा। ऐसा एक शोध में पता चला है। कनाडा की यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया के रिसर्च में यह बात सामने आई है। शोध के नतीजों से पता चला है कि महिलाएं जब अपने पुरुष साथी की गंध को सूंघती हैं तो उन्हें तनाव से राहत मिलती है। कनाडा यूनिवर्सिटी के प्रमुख वैज्ञानिक होफर ने कहा कि हमारे शोध के नतीजों से पता चलता है कि केवल साथी की गंध, जबकि वह आपके आसपास मौजूद न हो, तनाव घटाने में बेहद उपयोगी हो सकता है। इसके उलट, किसी अजनबी की गंध विपरीत प्रभाव पैदा करती है और तनाव वाले हार्मोन कॉर्टिसोल के स्तर को बढ़ा देती है। होफर ने बताया, “कम उम्र से ही, मनुष्यों में अजनबियों का डर होता है, खासतौर से अजनबी पुरुषों का, तो यह संभव है कि अजनबी पुरुष की गंध ‘लड़ो या भागो’ प्रतिक्रिया को प्रेरित करती है, जिससे कॉर्टिसोल का स्तर बढ़ जाता है। यह बिना हमारी जानकारी के होता है।
गंध का इंसानी स्वास्थ्य पर भी कई तरह का असर होता है। यही वजह है कि दर्द के इलाज के लिए अरोमा थेरेपी का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें तरह तरह के फल फूलों और बीजों के तेल का इस्तेमाल होता है। मसलन सरदर्द होने पर पुदीने के तेल का प्रयोग किया जा सकता है इसकी खुशबू से सरदर्द में राहत मिलती है। इसी तरह गेंदे के फूल का भी इलाज के लिए इस्तेमाल मुमकिन है। यही नहीं जानवरों में भी पार्टनर की गंध के प्रति संवेदनशीलता देखी गयी है। कई नर जानवर मादा को आकर्षित करने के लिए खास किस्म की गंध छोड़ते हैं। इसके अलावा बच्चे भी मां की गंध को पहचानते हैं। रिसर्च दिखाती है कि नवजात शिशुओं में गंध पहचानने की क्षमता इतनी ज्यादा होती है कि उन्हें कमरे में मां के होने और ना होने का भी पता रहता है।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *